UPI Payment Problem : सरकार का नया नियम 31 दिसंबर तक करना होगा यूपीआई एक्टीवेट , जानें पूरी जानकारी

UPI Payment Problem : नैशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने हाल ही में एक नई गाइडलाइन जारी की है जिसमें बताया गया है कि आपको 31 दिसंबर तक अपने यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) को एक्टिवेट करना होगा, अन्यथा नए साल से आप Google Pay, Paytm या Phonepe जैसे ऐप्स के माध्यम से यूपीआई पेमेंट्स का उपयोग नहीं कर पाएंगे। गूगल पे, फोन पे, और पेटीएम के उपयोगकर्ताओं को इस नए निर्देश के अनुसार अपनी यूपीआई आईडी को 31 दिसंबर से बंद करने का आदान-प्रदान करना होगा। इसका मुख्य कारण है कि ऐसा न करने से उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा समस्याएं बढ़ सकती हैं।

UPI Payment Problem

UPI Payment Problem
UPI Payment Problem

क्या कारण है UPI प्रॉब्लम ?

यह निर्देश एनपीसीआई द्वारा जारी किया गया है। यह एक नॉन-प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन है जो भारत के पेमेंट और सेटलमेंट सिस्टम को संचालित करता है। इसका उद्देश्य यूपीआई आईडी के फ्रॉड के खतरे को कम करना है और इस से जुड़े यूजर्स को सुरक्षित रखना है। इस निर्देश के अनुसार, गूगल पे, फोन पे, और पेटीएम यूजर्स को 31 दिसंबर से पहले अपनी यूपीआई आईडी को अपडेट करना होगा। इस नए निर्देश के मुताबिक, यह सुनिश्चित किया जाएगा !

यह भी पड़ें :- Dairy Farming New Loan Yojana : अब सरकार डेरी खोलनें पर देगी 31,25,000 सब्सिडी , जानें कौन होगा पात्र

यह भी पड़ें :- Free Ration Card Scheme Yojana : सरकार का नया नियम लागू सभी राशन कार्ड धारकों को मिलेगा लाभ , जानें क्या है पूरी जानकारी

यह भी पड़ें :- Ayushman Card List Kaise Dekhe Online : आयुष्मान कार्ड की लिस्ट ऑनलाइन कैसे देखें , जानें पूरी जानकारी

कि व्यापक तंत्र का उपयोग करके यूपीआई आईडी की सुरक्षा में सुधार हो, जिससे ऑनलाइन लेन-देन में सुरक्षितता बनी रहे। इस संबंध में, नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने एक सर्कुलर जारी किया है, जिसमें गूगल पे, पेटीएम, और फोन पे के उपयोगकर्ताओं को सजग रहने और अपनी यूपीआई आईडी को समय पर अपडेट करने का सुझाव दिया गया है।

क्या है NPCI गाइड्लाइन ?

एनपीसीआई ने घोषणा की है कि उन्होंने गूगल पे, फोन पे, और पेटीएम जैसे थर्ड पार्टी ऐप्स को अपने यूपीआई आईडी के साथ संबंधित लेन-देन को 31 दिसंबर 2023 से बंद करने का निर्देश दिया है। इस निर्देश के अनुसार, जो यूपीआई आईडी एक साल से अधिक समय तक निष्क्रिय रहता है, उसे 31 दिसंबर 2023 के बाद बंद कर दिया जाएगा। यह निर्देश एक गैर-लाभकारी संगठन के रूप में है, जो भारत के रिटेल पेमेंट और सेटलमेंट सिस्टम को प्रबंधित करता है। इससे फोनपे, गूगल पे, और पेटीएम जैसे एप्लिकेशन्स भी प्रभावित होंगे, क्योंकि वे इस सिस्टम के दिशा-निर्देशों के अनुसार कार्रवाई करते हैं।

और इसके साथ ही, किसी भी विवादात्मक स्थिति में एनपीसीआई ने अपनी मध्यस्थता का कार्य निभाया है। एनपीसीआई के सर्कुलर के अनुसार, उपयोगकर्ता सुरक्षा के कारण जिन यूपीआई आईडी का एक साल से अधिक समय से उपयोग नहीं किया जा रहा है, उसे बंद कर दिया जाएगा। यह सब इसलिए क्योंकि कई बार यूजर्स अपने पुराने नंबर को डीलिंक किए बिना नई आईडी बना लेते हैं, जिससे फ्रॉड की संभावना हो सकती है। इस पर, एनपीसीआई ने पुरानी आईडी को बंद करने का आदेश जारी किया है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार, इस स्थिति में आपका पुराना नंबर किसी नए यूजर को जारी किया जा सकता है, जिससे फ्रॉड की संभावना बढ़ सकती है। इन सभी कारणों के कारण, पुरानी आईडी को बंद करने का निर्णय लिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में दिये निर्णय में यह भी कहा है कि टेलिकॉम प्रोवाइडर कंपनियां 90 दिनों के भीतर डिएक्टिवेटेड नंबर को बंद कर सकती हैं और उस नंबर को किसी दूसरे को ट्रांसफर कर सकती हैं।

UPI Payment Website
Click Here
Join Whatsapp Channel 
Click Here
Join Telegram Channel Click Here

 

Leave a Comment