Mukhyamantri Bal Seva Scheme : इन बच्चों को दिए जायेगे हर महीने 2500 रुपये, यहाँ से करें आवेदन

Mukhyamantri Bal Seva Scheme : कोविड-19 के बाद ऐसे कई बच्चे अनाथ हो गए हैं, कुछ बच्चों के माता और पिता में से एक और कुछ बच्चों के माता या पिता दोनों कोरोना वायरस में डेथ हो गई है। इस मामले पर ध्यान देते हुए, उत्तर प्रदेश और हरियाणा दोनों राज्य सरकारों ने Mukhyamantri Bal Seva Scheme की शुरुआत की है। Mukhyamantri Bal Seva Scheme के अंतर्गत, राज्य सरकार अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता, मुफ्त शिक्षा, विवाह में सहायता, और अन्य आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

Mukhyamantri Bal Seva Scheme

Mukhyamantri Bal Seva Scheme
Mukhyamantri Bal Seva Scheme

मुख्यमंत्री बाल सेवा स्कीम हरियाणा ?

हरियाणा में सरकार ने घोषणा की है कि कोविड-19 महामारी के दौरान अनाथ हुए बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत, पात्र अनाथ बच्चों को सरकार द्वारा निम्नलिखित लाभ प्रदान किए जाएंगे।

  • Mukhyamantri Bal Seva Scheme के द्वारा अनाथ बच्चों को 18 वर्ष तक मासिक 2500/- रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इसके अतिरिक्त, उन्हें शिक्षा और अन्य व्यय के लिए प्रति वर्ष 12,000/- रुपये की सहायता भी मिलेगी।
  • Mukhyamantri Bal Seva Scheme के अंतर्गत, बाल सेवा संस्थानों में निवास करने वाले बच्चों के लिए नियमित जमा खाते खोले जाएंगे।
  • उस राशि को RD खाते से 21 साल की आयु के बाद निकाल पायेगे।
  • कोविड-19 महामारी के दौरान अनाथ हुए बच्चों के लिए, 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने तक, उनके खातों में प्रति वर्ष 15000/- रुपये प्रतिबच्चे के हिसाब से जमा किए जाएंगे।

कोविड-19 महामारी में अनाथ हुई लड़कियों के लिए अलग-अलग सहायता प्रदान की जाएगी। उन्हें कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में मुफ्त शिक्षा दी जाएगी और इसके साथ ही उन अनाथ लड़कियों को आवास भी प्रदान किया जाएगा। सरकार अनाथ लड़कियों के विवाह में भी सहायता राशि प्रदान करेगी। इस योजना के तहत, सरकार अनाथ बालिकाओं के खाते में 51,000 रुपये की राशि जमा करेगी, जो उन्हें विवाह के समय ब्याज के साथ मिलेगी। इसके अलावा, सरकार 8वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को मुफ्त लैपटॉप और टैबलेट भी प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री बाल सेवा स्कीम यूपी ?

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड-19 महामारी के दौरान अनाथ बच्चों के लिए Mukhyamantri Bal Seva Scheme की शुरुआत की। Mukhyamantri Bal Seva Scheme के तहत, उन बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिनके माता या पिता में से कोई एक की मृत्यु हो गई है। साथ ही, यदि किसी बच्चे के माता और पिता दोनों कोविड-19 में निधन हो गया है, तो ऐसे बच्चों को बाल संरक्षक गृह में भेजा जायेगा।

  • जिन बच्चों के माता या पिता में से एक की मृत्यु कोविड-19 में हुई है, उन्हें प्रतिमाह 4000/- रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।
  • इसके साथ ही, यदि बच्चे के माता और पिता दोनों की ही मृत्यु कोविड-19 में हो गई है, तो 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों को बाल संरक्षक गृह भेजा जाएगा।
  • इसके अलावा, सरकार अनाथ लड़कियों के विवाह में भी वित्तीय सहायता राशि प्रदान करेगी।
  • सरकार द्वारा व्यावसायिक शिक्षा प्राप्त करने वाले छात्रों को फ्री लैपटॉप या टैबलेट प्रदान किया जाएगा।

उत्तरप्रदेश में लगभग 1000 बच्चों को इस योजना से लाभ प्राप्त होने की संभावना है। सरकार द्वारा अनाथ बालिकाओं के विवाह पर 1,01,000/- रुपये की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। उसके साथ ही 18 साल से कम आयु की लड़कियों को कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों और उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित बाल गृह और अटल आवासीय विद्यालयों में शिक्षा के साथ निवास करने की सुविधा दी जायेगी।

मुख्यमंत्री बाल सेवा स्कीम के लिए आवेदन ऐसे करें ?

  • पहले आपको गाँव के पंचायत या विकासखंड या जिले के प्रोबेशन अधिकारी के पास जाना होगा।
    उनसे Mukhyamantri Bal Seva Scheme का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • फिर आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  • उसके साथ ही, सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच करना होता हैं।
  • फिर इस आवेदन फॉर्म को कार्यालय के अधिकारी के पास जमा करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से आप Mukhyamantri Bal Seva Scheme के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।
Join Whatsapp Channel 

Click Here
Join Telegram Channel Click Here

यह भी पढ़ें :- Free Solar Atta Chakki Yojana Registration 2024 ! अब सरकार सभी महिलाओं को दे रही फ्री सोलर आटा चक्की, अभी देखें पूरी जानकारी

यह भी पढ़ें :- Pm Free Leptop Scheme 2024 : फ्री लैपटॉप के लिए यहाँ से करें आवेदन मिलेगा सभी विद्यार्थियों को फ्री में लैपटॉप, देखें पूरी जानकारी

Leave a Comment