Home Loan and Power of SIP : लोन पर घर खरीदने के लिए बस करें ये काम, 40 लाख रुपये का लोन होगा फ्री, जेब से नहीं लगेगा एक भी पैसा

Home Loan and Power of SIP : होम लोन एक ऐसी सुविधा है, जिसके जरिए आसानी से मकान खरीदने का सपना पूरा हो जाता है। बेकाबू महंगाई के कारण कर्ज की ब्याज दरें लगातार बढ़ रही हैं। कर्ज महंगा होने का एक परिणाम यह है कि आपकी मासिक किश्तें (EMI) बढ़ जाती हैं या आपकी वापसी की अवधि बढ़ जाती है। वर्तमान में विभिन्न बैंकों की होम लोन की प्रारंभिक ब्याज दरें औसतन 8.50 फीसदी के आसपास हैं। इस ब्याज दर पर यदि आप 40 लाख रुपये का होम लोन अगले 20 साल के लिए लेते हैं, तो आपको मुख्य राशि पर लगभग उसी मात्रा में ब्याज देना पड़ेगा।

Home Loan and Power of SIP

Home Loan and Power of SIP
Home Loan and Power of SIP

अर्थात, होम लोन से खरीदे गए मकान की मूल्य लगभग दोगुनी हो जाती है। क्या आपने सोचा है कि इसे कैसे चुकाया जाए? अर्थात, जिस ब्याज को हम अगले 20 सालों में देंगे, उसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है, ताकि मकान का मूल्य अच्छे से अच्छे वापस मिल सके। इसका एक सरल तरीका SIP (Systematic Investment Plan) रणनीति है।

होम लोन लेने से पहले, क्या आपने इसका कैलकुलेशन किया है? समझिये, आप एक 40 लाख का लोन ले रहे हैं जिसे आप अगले 20 सालों में बैंक को 43 लाख से अधिक का सिर्फ ब्‍याज चुका देंगे। अगर आप कुल रिपेमेंट अमाउंट देखें, तो यह लगभग 84 लाख के आसपास होगा। और वह भी उस समय जब पूरे रिपेमेंट टेन्‍योर में ब्‍याज दरें 8.5 फीसदी पर बनी रहें। इस कैलकुलेशन को करने के बाद, अब वक्‍त है एक ऐसी फाइनेंशियल स्‍ट्रैटजी बनाने का, जिससे आप अपने होम लोन के टेन्‍योर के साथ-साथ अपने घर की कीमत के बराबर कॉपर्स भी बना सकें।

Home Loan लेने के बाद कैसे बनाएं ?

विशेषज्ञ कहते हैं कि, आज के समय में यदि आप बड़े शहरों में एक 2BHK घर की औसत कीमत देखें, तो वह लगभग 50-60 लाख रुपये के आसपास है। यदि आप 50 लाख रुपये के घर के लिए 80 फीसदी लोन (40 लाख) लेते हैं, तो भी आपको इस राशि पर भारी ब्याज चुकाना होगा। एकता कहते हैं, इस स्थिति में आपको इसे लौटाने की योजना बनानी चाहिए। इसके लिए आज के समय में म्यूचुअल फंड SIP एक बेहतर विकल्प है।Home Loan and Power of SIP

यह भी पड़ें :- Without Income Proof Personal Loan Apply 2024 : पर्सनल लोन रु4 लाख तक मिलेगा तुरन्त आधार कार्ड से घर बैठे, अभी देखें

यह भी पड़ें :- KreditBee Loan Online Apply Process : क्रेडिट बी से पर्सनल लोन 10,000 से 5 लाख तक ऐसे मिलेगा सीधें बैंक खाते में, देखें पूरी प्रक्रिया

इसमें आपकी रणनीति यह होनी चाहिए कि होम लोन की EMI की शुरुआत के साथ ही उसी अनुमानित अवधि के लिए मासिक SIP भी शुरू कर दें। अब हर महीने SIP में कितनी राशि निवेश करनी है, यह EMI के आधार पर निर्धारित की जानी चाहिए। सामान्य रूप से, यदि आप अपनी EMI की 20-25 फीसदी की राशि को SIP में निवेश करते हैं, तो होम लोन के खत्म होने तक आपका कुल भुगतान बैंक को किया जाने वाला भुगतान, उससे भी कम हो सकता है!Home Loan and Power of SIP

Home Loan की गणना ?

कुल होम लोन: 40 लाख रुपये
कार्यकाल: 20 साल
व्याज दर: 8.5 प्रतिशत वार्षिक
EMI: 34,713 रुपये
लोन पर कुल ब्याज: 4,331,103 रुपये
लोन का कुल भुगतान: 8,331,103 रुपये (लगभग 84 लाख रुपये)

एसआईपी पर गणना ?

साझेदारी में निवेश की राशि: EMI का 25% (8,678 रुपये)
निवेश की अवधि: 20 साल
अनुमानित रिटर्न: 12% प्रति वर्ष
20 साल बाद साझेदारी का मौजूदा मूल्य: 86,70,606 रुपये (लगभग 86.7 लाख)

SIP महंगाई से असली रिटर्न ?

जब आप EMI के साथ-साथ मासिक भाव में SIP शुरू करते हैं, तो 20 साल बाद आपको बैंक ऋण और उसके चार्ज के कुल ब्याज की कीमत मिल जाती है। लेकिन, यहां एक सवाल उठता है कि क्या इसे वास्तविक रिटर्न माना जा सकता है। आपको यह समझने की जरूरत है कि निश्चित रूप से आपके पास उपरोक्त गणना पर अनुमानित जीवनांत 86 लाख से अधिक हो सकता है। लेकिन, एक छुपा हुआ तत्व है महंगाई दर, जिसे हर साल ऋण लेने वाला भुगतान करता है। इसलिए, यदि हम महंगाई दर को SIP रिटर्न से अद्यतन करते हैं, तो हमें यह पता चलता है कि असल में हमने कितना जीवनांत बनाया है।

SIP रिटर्न पर 6% औसत बैलेंस शीट ?

SIP का निवेश रकम: EMI का 25% (8,678 रुपये)
निवेश की अवधि: 20 साल
अनुमानित लाभ: 12% वार्षिक
सालाना औसत महंगाई दर: 6%
20 साल बाद SIP की मौलिक राशि: 40,29,639 रुपये (लगभग 41 लाख)

महंगाई के बाद भी कर्ज की वसूली ?

एसआईपी रिटर्न में स्टार्टअप दर को एज स्टार्टअप के बाद भी करीब 41 लाख रुपये का टर्नओवर मिला। आपका होम लोन भी 40 लाख रुपये है. यानी आप आसानी से होम लोन के कैश फ्लो के बराबर या कम कॉर्पस बना सकते हैं। जिस प्रकार होम लोन एक दीर्घकालिक ऋण उत्पाद है। यानी कर्ज लेने वाले को लंबे समय तक पुनर्भुगतान करना पड़ता है। इसी तरह, एसआईपी को भी लंबे समय तक जारी रखने पर कम बैंकिंग का जबरदस्त फायदा होता है।

यह भी पड़ें :- Aadhar Card Loan Apply Online 2024 : अब आधार कार्ड पर 50 हजार का पर्सनल लोन कैसे पाएं , यहाँ देखें पूरी जानकारी

यूनिटी कॉर्पोरेशन के अनुसार, फ़्रांसीसी फंड में लंबी अवधि के निवेश से हमेशा कंपाउंडिंग का फ़ायदा होता है। लंबी अवधि में कई फ़्रैंचाइज़ी फ़्रांसीसी स्कॉच हैं, क्वेश्चन रिटर्न औसत 7 से 15 प्रतिशत तक आ रहा है। फ़्रैंचाइज़ी फ़ंड निवेश में निवेश जल्दी शुरू हुआ, उसका फ़ायदा निवेश ही शुरू होता है। हालाँकि, फ़्रैंचाइज़ फंड में रिटर्न की कोई कमी नहीं है। इसलिए, निवेशकों को अपनी आय, लक्ष्य और जोखिम प्रोफाइल पर ध्यान देकर निवेश का निर्णय लेना चाहिए।

Home Loan लेते समय  इन बातों पर जरूर ध्यान दें ?

जब आप अपना पहला मकान खरीद रहे होते हैं और होम लोन की योजना बना रहे होते हैं, तो यह बातें ध्यान में रखना जरूरी है। अगर आप ये नहीं करते हैं, तो आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। होम लोन लेते समय सावधानी बरतना बहुत महत्वपूर्ण है। ऐसा करने से आपको होम लोन मिलने में आसानी होगी और कोई भी समस्या नहीं उत्पन्न होगी।

वास्तव में, यदि थोड़ी सी भी कमी होती है, तो बैंक होम लोन की योग्यता से इंकार कर सकता है। इस प्रकार, लोगों को अक्सर निजी वित्तीय संस्थानों के पास जाना पड़ता है, जहां उन्हें ब्याज दर में अधिकता का सामना करना पड़ता है। इसलिए, यहाँ कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है।

यदि आप होम लोन लेने का प्लान बना रहे हैं, तो अपनी वित्तीय स्थिति की जांच करें। होम लोन की किश्तों को हर महीने भरने में आसानी होनी चाहिए। होम लोन लेने के लिए आपको अग्रिम भुगतान भी करना होगा। इसे बिना किसी दबाव के भर सकें तब ही होम लोन लें। साथ ही, आपके पास कुछ बचत होनी भी चाहिए।

यदि आप होम लोन के लिए जा रहे हैं, तो सबसे पहले आपको डाउन पेमेंट की व्यवस्था करनी चाहिए। होम लोन के लिए डाउन पेमेंट करनी होती है, जिसकी राशि कुल कीमत का 10 प्रतिशत से 25 प्रतिशत तक हो सकती है। अगर आप 40 लाख का Home Loan लेने जा रहे हैं, तो आपको लगभग 8 लाख रुपये की पैमेंट पहले करनी होगी। आप होम लोन के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana) का भी लाभ उठा सकते हैं, जो पहले बार घर खरीदने वालों के लिए है।

जब भी आप होम लोन लें, तो सबसे पहले आपको बैंकों के होम लोन पर ब्याज दर के बारे में पता कर लेना चाहिए। आप अपनी जरूरत और सुविधाओं के हिसाब से वह बैंक चुनें जिससे आप लोन लेने जा रहे हैं। होम लोन लेते समय आपका क्रेडिट स्कोर भी महत्वपूर्ण है। अगर आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा है, तो आपको लोन अनुमोदन की संभावना बढ़ जाती है। वहीं, अगर आपका क्रेडिट स्कोर खराब है, तो लोन मिलने की संभावना कम हो जाती है।

Join Whatsapp Channel 
Click Here
Join Telegram Channel Click Here

Leave a Comment